सऊदी अरब में एक दिन में 81 लोगों को फांसी, वजह जानकर चौंक जाएंगे

सऊदी अरब में एक दिन में 81 लोगों को फांसी के फंदे पर लटका दिया गया. दुनिया में एक साथ इतनी बड़ी संख्या में मौत की सजा दिए जाने का यह पहला मामला है. सऊदी प्रेस एजेंसी ने एक बयान में कहा कि जिन 81 लोगों को फांसी पर लटकाया गया है, उनमें 73 सऊदी नागरिक, सात यमन और एक सीरियाई नागरिक था. उन लोगों पर आरोप था कि उन लोगों ने सुरक्षा अधिकारियों की हत्या की कोशिश की थी. कई पुलिस स्टेशनों को निशाना बनाया था. इनमें से एक यमन का नागिरक था, जो ISIS के लिए काम करता था. कई अल कायदा, इस्लामिक स्टेट और हूती विद्रोही संगठन से जुड़े आतंकी थे.

एजेंसी ने कहा है, जिन लोगों को फांसी के फंदे पर चढ़ाया गया है, वो सऊदी अरब में हमलों की योजना बना रहे थे. इसमें बड़ी संख्या में आम नागरिकों की हत्या और सुरक्षा बलों पर हमले की साजिश शामिल थी. ये दोषी सरकारी कर्मचारियों और महत्वपूर्ण आर्थिक संस्थानों को निशाना बनाने की साजिश कर रहे थे.

सऊदी अरब (Saudi Arabia) के आधुनिक इतिहास में एक ही दिन में इतने लोगों को मृत्युदंड दिए जाने का यह पहला मामला है. इससे पहले जनवरी 1980 में मक्का की बड़ी मस्जिद से संबंधित बंधक प्रकरण में दोषी ठहराए गए 63 चरमपंथियों को मृत्युदंड (Death Penalty) दिया गया था.

खाड़ी देश विभिन्न मामलों में दोषी अपराधियों को सजा-ए-मौत देने में सबसे आगे हैं. हाल के दिनों में सऊदी अरब में मौत की सजा पाने वालों की यह सबसे बड़ी संख्या (81 लोगों को सजा) है. इसके पहले 2021 में 67 अपराधियों को सजा दी गई थी. साल 2020 में 27 अपराधियों को सजा-ए-मौत हुई थी. 2019 में सऊदी अरब में 37 लोगों को मौत की सजा दी गई थी. 2016 की जनवरी में 47 लोगों के सिर कलम किए गए थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.