जंगलराज के खात्मे के लिये यूपी में ‘महिला सुरक्षा सम्मान यात्रा’ निकलने जा रहे हैं चंद्रशेखर

नई दिल्लीः उत्तर प्रदेश सरकार पर इलाहबाद हाईकोर्ट ने सख्त टिप्पणी करते हुए कहा था कि कहना गलत न होगा कि यूपी में जंगलराज है। इसके बाद से विपक्षी पार्टियां राज्य में सत्तारूढ़ भाजपा के ख़िलाफ हमलावर हो गईं हैं। अब आज़ाद समाज पार्टी के अध्यक्ष चंद्रशेखर आज़ाद ने यूपी सरकार की मुश्किलें बढ़ा दीं हैं। चंद्रशेखर ने उत्तर प्रदेश में बहन बेटी सम्मान यात्रा निकालने की घोषणा की है।

आज़ाद समाज पार्टी के अध्यक्ष ने कहा कि यूपी में बहन बेटियां सुरक्षित नहीं। हाथरस के बाद बदायूं में मंदिर परिसर में हुई दरिंदगी ने यूपी में व्याप्त जंगलराज पर मुहर लगा दी है। सरकार नाकाम है। इस जंगलराज के खात्मे के लिए हमें ही क़दम बढाना होगा। मैं पूरे प्रदेश में ‘महिला सुरक्षा सम्मान यात्रा’ निकलने जा रहा हूं।

उन्होंने कहा कि यूपी, जिला बदायूं में पूजा करने कई 50 वर्षीय महिला के साथ दरिंदों द्वारा बर्बरतापूर्ण गैंगरेप कर हत्या की घटना शर्मनाक है। ये घटनाएं ‘मिशन शक्ति’ की पोल खोलती है। हमेशा की तरह पुलिस शुरुआत में दरिंदों को बचाती रही। प्रदेश में न कानून व्यवस्था ठीक है और न ही योगी सरकार की नीयत। चंद्रशेखर ने द रिपोर्ट से बात करते हुए कहा कि समाज सें सबसे अधिक अत्याचार होता है, इसलिये महिला सुरक्षा सुनिश्चित करने का समय आ गया है। उन्होंने कहा कि महिलाओं को अत्याचार से मुक्ती दिलाने के लिये पूरे उत्तर प्रदेश में यात्रा निकालेंगे।

चंद्रशेखर ने किसान आंदोलन का समर्थन करते हुए कहा कि किसान आंदोलन में अब तक 53 किसानों की जान जा चुकी है लेकिन सत्ता के नशे में चूर भाजपा सरकार का अहंकार झुक नहीं रहा है। सवाल यह है कि कानूनों को वापस लेने से पहले सरकार और कितने अन्नदाताओं की हत्या करेगी? बलिदान देने वाले सभी अन्नदाताओं को नमन।