अब कर्नाटक के एक मस्जिद पर विवाद, हिंदू संगठनों ने मांगी पूजा की अनुमति

उत्तर प्रदेश के वाराणसी में स्थित ज्ञानवापी मस्जिद का सर्वे और ताजमहल में शिवलिंग होने के दावे के बाद अब कर्नाट की एक मस्जिद को लेकर चौंका देने वाला दावा सामने आया है. ये दावा कर्नाटक की जामिया मस्जिद को लेकर किया गया है. राइट विंग के कार्यकर्ताओं ने दावा किया है कि टीपू सुल्तान के समय के अंजनेया मंदिर पर जामिया मस्जिद बनाई गई है और इसके ऐतिहासिक प्रमाण होने का दावा किया गया है.

दक्षिणपंथी समूह के कुछ सदस्यों ने सोमवार को कर्नाटक के मांड्या के डिप्टी कमिश्नर को ज्ञापन सौंपा है, जिसमें ये मांग की गई है कि उन्हें जामिया मस्जिद (Jamia Masjid) में आंजनेय मूर्ति की पूजा करने की इजाजत दी जाए.

हिंदू संगठनों का कहना है कि टीपू सुल्तान ने इस बारे में फारस खालिफ के राजा को चिट्ठी में बताया था. संस्था की मांग है कि पुरातत्व विभाग को इन दस्तावेजों को देखने के साथ पूरे मामले की जांच करनी चाहिए. इतना ही नहीं उन्होंने प्रशासन से ढांचे के अंदर मौजूद तालाब में नहाने की अनुमति मांगी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.