हार और जीत खेल का नियम है। हार से सीख लेने से ही भविष्य में बड़ी जीत हासिल होगी : ललन कुमार

लखनऊ/बक्शी का तालाब: उत्तर प्रदेश काँग्रेस कमेटी के मीडिया संयोजक ललन कुमार ने संगठन सृजन अभियान के तहत आज बक्शीकातालाबविधानसभा के भवानीपुर, हेमी गाँव, पहाड़पुर, कुम्हरावां, सोनारनपुरवा, कठवारा एवं मलीहाबाद विधानसभा के कुराखर गाँव का दौरा किया।

ग्राम भवानीपुर में स्थानीय लोगों से चाय पर चर्चा करते हुए ललन कुमार ने उनसे समस्याओं एवं समाधानों के विषय में बातचीत की। हमेशा की तरह उन्होंने लोगों से कहा कि “आप मुझे नेता नहीं, बल्कि अपना बेटा, दोस्त या भाई समझें।“

मलीहाबाद के कुराखर गाँव में चल रहे क्रिकेट टूर्नामेंट में पहुँचकर ललन कुमार ने वहाँ खेल रही पवाया गाँव और मंझी गाँव की टीम के खिलाड़ियों को प्रोत्साहित किया। उन्होंने कहा कि “टूर्नामेंट जीवन में रोमांच लाता है जिससे हम खुद को पहले से ज्यादा बेहतर बनाने का प्रयास करते हैं।“

ग्राम बरगदी में आयोजित क्रिकेट टूर्नामेंट के फाइनल में रायसिंह पुर एवं रामपुरवा के बीच हुए रोमांचक मैच में रायसिंह की टीम ने जीत दर्ज की। जीत के बाद विजेता और उपविजेता टीम को सम्मानित कर ईनाम राशि दी। उपविजेता टीम को प्रोत्साहित करते हुए उन्होंने कहा कि “हार और जीत खेल का नियम है। हार से सीख लेने से ही भविष्य में बड़ी जीत हासिल होगी।

कुम्हरावाँ, कठवारा एवं पहाडपुर स्थित अपने क्षेत्रीय कार्यालयों पर पहुँचकर लोगों की समस्याओं को सुन उनके समाधान पर चर्चा की। उन्होंने लोगों से कहा कि आप कभी भी हमारे कार्यालय पर आकर बात कर सकते हैं। हमने क्षेत्रीय कार्यालय आपकी सुविधा के लिए ही प्रारम्भ किये हैं।

फर्जी है भाजपा का बेटी बचाओ नारा

ललन कुमार ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी की शिवपुर विधानसभा में 2 बार से भाजपा से पूर्व विधायक और कॉलेज के चेयरमैन माया शंकर पाठक को एक छात्रा से छेड़खानी के चलते कूट दिया गया। इस बात को पाठक ने कान पकड़ कर क़ुबूल भी किया। महिला सुरक्षा की बात का दावा ठोक रहे मिशन शक्ति वाले मुख्यमंत्री  योगी आदित्यनाथ और प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी की पार्टी के नेता द्वारा किया गया यह कृत्य महिलाओं की सुरक्षा के प्रति उनके दोगलेपन को दर्शाता है।

कांग्रेस के मीडिया संयोजक ललन कुमार ने कहा कि मैं नरेंद्र मोदी जी एवं योगी आदित्यनाथ जी से पूछना चाहता हूँ कि, “ऐसे नेता भाजपा में आते हैं या भाजपा में आकर ऐसे बन जाते हैं?” इस पर कब कार्यवाही होगी? क्या आपकी भाजपा ऐसे लोगों की संरक्षक है?