प्रियंका के तीखे सवाल ‘केंद्र सरकार ने दिया क्या? वैक्सीन केन्द्रों पर ताले, एक देश, वैक्सीन के 3 दाम’

नई दिल्लीः कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी तथा पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कोरोना टीके की भारी कमी को लेकर मोदी सरकार पर हमला करते हुए कहा है कि वह कोरोना से मरने वाले लोगों का सही आंकड़ा नहीं दे रही है। राहुल गांधी ने ट्वीट किया , “ भारत सरकार कोरोना से होने वाली मौत के वास्तविक आंकड़े को छुपा रही है।”

इससे पहले उन्होंने टीके की कमी को लेकर सरकार पर निशाना साधा और कहा “ कोरोना महामारी के ख़िलाफ़ सबसे मज़बूत सुरक्षा कवच सिर्फ़ वैक्सीन है। देश के जन-जन तक मुफ़्त टीकाकरण पहुँचाने के लिए आप भी आवाज़ उठाइए- केंद्र सरकार को जगाए।”

प्रियंका भी हमलावर

प्रियंका गांधी ने फेसबुक पोस्ट में कहा, “ आज देश में प्रतिदिन औसतन19 लाख लोगों को वैक्सीन लग पा रही है। केंद्र सरकार की ढुलमुल वैक्सीन नीति ने वैक्सीन वितरण को अधर में लाकर छोड़ दिया है।” उन्होंने कहा, “ भारत के लोगों ने आशा की थी कि सबके लिए मुफ्त वैक्सीन की नीति बनेगी लेकिन केंद्र सरकार ने दिया क्या। वैक्सीन केन्द्रों पर ताले, एक देश, वैक्सीन के तीन दाम, अभी तक मात्र 3.4 प्रतिशत जनसंख्या का फुल वैक्सीनेशन, जिम्मेदारी त्याग का भार राज्यों पर डालना, दिशाहीन वैक्सीन नीति।”

वहीं प्रियंका गांधी ने सीबीएसई बोर्ड की 12 वीं की परीक्षा रद्द किये जाने पर भी अपने विचार रखे हैं। उन्होंने कहा कि कल मैंने विद्यार्थियों, अभिवावकों एवं शिक्षकों के सुझावों को इकट्ठा कर शिक्षा मंत्री को पत्र लिखकर सीबीएसई 12th बोर्ड के बारे में दुविधा की स्थिति खत्म करने की बात कही थी। हमारी युवा पीढ़ी की सुरक्षा सर्वोपरि है। इसलिए उनकी सुरक्षा को प्राथमिकता देना जरूरी था। विद्यार्थी अपनी बात सरकार तक पहुंचाने में कामयाब रहे। अब ये समय महीनों से चले आ रहे मनोवैज्ञानिक दबाव को कम करने का है। मैं सभी विद्यार्थियों को भविष्य के लिए शुभकामनाएं देती हूं।