राहुल के आक्रामक तेवर कहा ‘मैं इनसे डरता नहीं हूँ, मुझे ये लोग छू नहीं सकते, हाँ गोली ज़रूर मार सकते हैं’

नई दिल्लीः कांग्रेस पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज एक प्रेस कांफ्रेंस में भारतीय जनता पार्टी पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने किसान आंदोलन का समर्थन करते हुए कहा कि इस देश को अब सिर्फ चार पांच लोग ही चला रहे हैं। इस दौरान उन्होंने कृषि कानूनों पर ‘खेती का खून तीन काले कानून’ बुकलेट जारी की। राहुल ने कहा कि हर इंडस्ट्री में चार-पांच लोगों का एकाधिकार बढ़ रहा है, मतलब इस देश के चार-पांच नए मालिक हैं। आज तक खेती में एकाधिकार नहीं हुआ। नरेंद्र मोदी चार-पांच लोगों के हाथों में खेती का पूरा ढांचा दे रहे हैं।

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा कि सरकार किसानों का ध्यान भटकाने की कोशिश कर रही है, सरकार किसानों से बात करने के लिए कह रही है। 9 बार बात हो गई, सरकार मामले में कोर्ट को घसीटती जा रही है। राहुल ने कहा कि ये तीन कानून एक प्रक्रिया है, ये यहां नहीं रूकने वाले। इनका लक्ष्य हिन्दुस्तान के किसान को खत्म करना और पूरा कृषि का सिस्टम अपने तीन-चार मित्रों को देना है।

मुझे छू तो नहीं सकते हां गोली मार सकते हैं

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा कि ‘मैं साफ़ सुथरा आदमी हूँ, मुझे ये लोग छू नहीं सकते, हाँ गोली ज़रूर मार सकते हैं, मैं इनसे डरता नहीं हूँ, चाहे केई मेरे साथ न हो मैं अकेला खड़ा रहूँगा और लड़ता रहूँगा, ये मेरा धर्म है। आज मेरी बात मत मानना, जब गुलाम बन जाओगे तब मानोगे’। उन्होंने कहा कि विपक्ष को मीडिया की ज़रूरत होती है, विपक्ष को कोर्ट की ज़रूरत होती है। विपक्ष को संसद की ज़रूरत होती है। विपक्ष को संस्थानों की ज़रूरत है लेकिन इन सब पर सरकार का क़ब्ज़ा है।

अर्णब पर सवाल

चीन की घुसपैठ पर सवाल करते हुए उन्होंने कहा कि चीन हिन्दुस्तान की कमजोरी को देख रहा है, चीन के पास स्ट्रेटेजिक विज़न है वो दुनिया को शेप करना चाहता है। हिन्दुस्तान के पास स्ट्रेटेजिक विज़न नहीं है। चीन ने हिन्दुस्तान को डोकलाम और लद्दाख में टेस्ट किया, अगर चीन को साफ संदेश नहीं दिया तो चीन इसका फायदा उठाएगा। अर्णब गेट पर बोलते हुए राहुल ने कहा कि इस बात की जांच होनी चाहिए कि अर्णव एक पत्रकार को सेना की सीक्रेट जानकारी किसने दी। प्रधानमंत्री ने, गृह मंत्री ने, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार ने या किसी और ने?