Saturday, December 4, 2021

लखीमपुर की घटना पर टिकैत ने दी चेतावनी, किसान को डराने की कोशिश पड़ेगी भारी

Must Read

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी ज़िले में उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के एक कार्यक्रम के विरोध में हुए प्रदर्शन के बाद चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत का मामला तूल पकड़ता जा रहा है।
वहां हालात तनावपूर्ण बने हुए हैं. रिपोर्टें हैं कि घटनास्थल पर ही किसानों और ज़िला प्रशासन के बीच वार्ता चल रही है। इस बीच लखीमपुर खीरी हिंसा के लिए केंद्रीय गृह राज्य मंत्री ने किसानों के बीच शामिल उपद्रवियों को जिम्मेवार ठहराया है।

किसान नेता राकेश टिकैत ने इस घटना पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। किसान नेता ने कहा कि लखीमपुर खीरी में हुई घटना बहुत ही दुखद है। ‌इस घटना ने सरकार के क्रूर और अलोकतांत्रिक चेहरे को एक बार फिर उजागर कर दिया है। किसान आंदोलन को दबाने के लिए सरकार किस हद तक गिर सकती है, सरकार और सरकार में बैठे लोगों ने आज फिर बता दिया। लेकिन सरकार भूल रही है। सरकार किसान के र्धर्य की और परीक्षा न ले।

- Advertisement -

भारीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि किसान मर सकता है पर डरने वाला नहीं है। सरकार होश में आए और किसानों के हत्यारों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तारी सुनिश्चित करे। किसानों से अपील है कि शांति बनाएं रखें, जीत किसानों की ही होगी।

इस घटना पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, “इस प्रकार की घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। सरकार इस घटना के तह में जाएगी और घटना में शामिल तत्वों को बेनकाब करेगी और दोषियों के विरुद्ध सख़्त कार्रवाई करेगी। घटना स्थल पर अपर मुख्य सचिव नियुक्ति, कार्मिक एंव कृषि, एडीजी क़ानून व्यवस्था, आयुक्त लखनऊ और आईजी लखनऊ मौजूद हैं और स्थिति पर नियंत्रण रखते हुए घटना के कारणों की गहराई से जांच कर रहे हैं।”

Leave a Reply

- Advertisement -

Latest News

- Advertisement -

More Recipes Like This

- Advertisement -