अजीत अंजुम के लिए रवीश कुमार ने एलन मस्क को लिखा खत

सेवा में,

माननीय एलन मस्क जी,

आपने कार बनाई, अभी तक भारत नहीं आ सकी है। हम अमरीका में टेस्ला कार देख चुके हैं लेकिन सवारी का मौक़ा नहीं मिला।हमारे लिए टेस्ला नाम नया नहीं है। टीवी का एक ब्रांड था, जो कब का बनना बंद हो गया। यहाँ हम लोग आपकी टेस्ला कार से पहले ई-रिक्शा पर घूम रहे हैं। आजकल सुन रहा हूँ कि आप ट्विटर ख़रीदने वाले हैं। महाराज, जल्दी ख़रीद लीजिए। ख़रीदते ही पहला काम यह कीजिए कि अजीत अंजुम जी का ट्विटर अकाउंट खुलवा दीजिए। यह मत सोचिएगा कि हम आपसे कार माँग रहे हैं। अजीत अंजुम का खाता चालू करना कौन सी बड़ी बात है। अगर आपको भी डर लगता है तो इतना पैसा कमाने का क्या फ़ायदा। सब डॉलर को बोरा में भर अटलांटिक में फेंक दीजिएगा।

बाक़ी कोई दिक़्क़त हो तो बताइयेगा। हम लोग वहाँ भी आपकी मदद कर देंगे। कोई न कोई अमरीका जाता ही रहता है, सोच रहे हैं उसके साथ पाँच किलो चूड़ा और एक किलो गुड़ भिजवा देते हैं। कहिएगा तो अनारसा भी भिजवा सकते हैं। आप काम कीजिए न कीजिए, कोई बात नहीं है, हम लोग सिफ़ारिश में काम होने से पहले लेन-देन का बुरा नहीं मानते हैं। पहले से ही माइनस मान कर चलते हैं।

आप ख़ुश रहें। अजीत अंजुम को भी ख़ुश रहने दें।

आपका,

रवीश कुमार

Leave a Reply

Your email address will not be published.