कंगना को शादाब का निमंत्रण ‘आओ एक बार गाजीपुर बॉर्डर फिर बताएंगे कि किसान क्या हैं?’

नई दिल्लीः किसानों आंदोलन की गूंज अब अमेरिका तक पहुंच गई है। इसी के चलते हॉलीवुड अभिनेत्री और सिंगर रेहाना ने भारत में चल रहे किसान आंदोलन का समर्थन किया है। ग्रेटा थनबर्ग स्वीडन की एक पर्यावरण कार्यकर्ता हैं जिनके पर्यावरण आन्दोलन को अन्तरराष्ट्रीय ख्यति मिली है। स्वीडन की इस एक्टिविस्ट के आन्दोलनों के फलस्वरूप विश्व के नेता अब जलवायु परिवर्तन पर कार्य करने के लिए विवश हुए हैं।

दुनिया भर में चर्चा लेकिन भारत में बदनाम

किसान आंदोलन को एक तरफ जहां जहां इंटरनेशनल स्तर पर ख्याती मिल रही है, समर्थन मिल रहा है, वहीं आंदोलनकारी किसान सरकार समर्थित सेलेब्रेटीज के निशाने पर हैं। रेहाना द्वारा किसान आंदोलन का समर्थन करने पर बॉलीवुड की विवादित अभिनेत्री कंगना रानौत ने किसानों को आतंकवादी कहा है।

कंगना ने रेहाना को जवाब देते हुए कहा कि  इसके बारे में कोई भी बात इसलिए नहीं कर रहा है क्योंकि ये किसान नहीं हैं बल्कि आतंकवादी हैं जो भारत को बांटना चाह रहे हैं। ताकि चीन जैसे देश हमारे राष्ट्र पर कब्जा जमा ले और यूएसए जैसी चाइनीज कॉलोनी बना दें। तुम शांत बैठो बेवकूफ। हम लोग तुम्हारे जैसे बेवकूफ नहीं हैं जो अपने देश को बेच दें। कंगना ने यह ट्विट इसलिये किया क्योंकि हॉलीवुड अभिनेत्री रेहाना ने हरियाणा में इंटरनेट काटे जाने पर आपत्ति जाहिर करते हुए लोगों का ध्यान इस ओर आकर्षित कराया था।

शादाब ने दिया करारा जवाब

कंगना द्वारा किसानों को आतंकवादी बताए जान पर पीस पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता शादाब चौहान ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। उन्होंने कहा कि हम किसानों को आतंकवादी कहने वाली कंगना रनौत को मेरा जवाब किसान देश की सेवा करता है। अगर इतनी नफरत  किसानों से है तो चार दिन बिना अन्न के रह करके दिखाओ, आओ एक बार गाजीपुर बॉर्डर फिर बताएंगे आपको कि किसान क्या है हमसे मत टकराना।

साथ ही शादाब चौहान किसान आंदोलन स्थल पर सड़क पर कंटीली बाढ़ लगाने और कील ठोके जाने की भी निंदा की है। उन्होंने कहा कि भारत में घुसपैठ चीन द्वारा की जा रही है, सिक्किम, अरुणाचल, लद्दाख में चीन की लगातार घुसपैठ जारी है, लेकिन सरकार उसे रोकने के बजाय सारी ताक़त किसानों के ख़िलाफ इस्तेमाल कर रही है। उन्होंने कहा कि सरकार को हर हाल में झुकना होगा और तीनों काले कानून वापस लेने होंगे।