उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव कोरोना का सुपर स्प्रेडर बना है : ललन कुमार

लखनऊ:  उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया एवं कम्युनिकेशन विभाग के संयोजक ललन कुमार ने प्रदेश में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मामलों और उनसे हो रही मौतों को लेकर योगी सरकार पर निशाना साधा है। ललन कुमार ने कहा कि भारत में पिछले 2 महीने से बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मामले एवं उसके कारण हो रही मृत्यु चिंताजनक है। प्रत्येक दिन हजारों की संख्या में प्रदेश में लोगों की मृत्यु हो रही है। स्वास्थ्य व्यवस्था की असफलता इन मृत्युओं का बड़ा कारण साबित हुई है। मरीजों को अस्पतालों में बेड न मिलना बहुत दुखद है। ज़रूरतमंद मरीजों को हो रही ऑक्सीजन एवं दवाओं की कमी योगी जी के दावों की पोल खोल रही है। योगी जी का कहना है कि प्रदेश में बेड, ऑक्सीजन व दवाओं की कमी नहीं है। मगर सच्चाई कुछ और ही है।

ललन ने कहा कि बंगाल चुनाव और उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव कराने की भाजपा की जिद ने देश को गहरे संकट में झोंक दिया है। योगी जी ने कहा है कि यदि कोई भी व्यक्ति यह कहेगा कि प्रदेश में ऑक्सीजन, या बेड की कमी है तो उन पर FIR करवा दी जाएगी। यह उनके तानाशाही रवैये को व्यक्त करता कथन है। ऐसा करने पर उनके द्वारा कुछ लोगों पर कार्यवाही भी की गयी है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश के शहरी इलाकों को छोड़ दें तो इस समय ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना कहर बरपा रहा है। गाँव तक नहीं पहुँच रहीं उचित स्वास्थ्य व्यवस्थाओं के कारण हर रोज़ प्रत्येक गाँव से लोगों की मृत्यु की ख़बरें आ रही हैं। गाँव में जाँच की व्यवस्था न होने के कारण वहाँ के लोग जाँच नहीं करा पा रहे एवं हलकी फुलकी दवाइयां लेकर कुछ दिनों में ही अपनी जान गँवा दे रहे हैं। कोरोना और टाइफाइड में उलझ चुके गाँव वाले ठीक से इलाज नहीं करा पा रहे हैं।

योगी आदित्यनाथ जी से अनुरोध है कि कृपया दूर-गाँव तक स्वास्थ्य व्यवस्थाएँ पहुँचाएँ ताकि वहाँ बेवजह मारे जा रहे लगों की जान बचाई जा सके। यदि वह ऐसा करने में असफर हो रहे हैं तो उन्हें तत्काल प्रभाव से अपना इस्तीफा दे देना चाहिए।