कर्नाटक में हिजाब के बाद अब ‘हलाल मीट’ पर विवाद

बेंगलुरु: कर्नाटक में हिजाब को लेकर उठा ​मुद्दा अभी पूरी तरह शांत भी नहीं हुआ था कि अब हलाल मीट को लेकर नए विवाद ने जन्म ​ले लिया है. भाजपा महासचिव सीटी रवि के एक बयान से इस मुद्दे को हवा मिली है. सीटी रवि ने एक दिन पहले हलाल मीट को आर्थिक जिहाद करार दिया था. उन्होंने हिंदुओं से हलाल मीट का इस्तेमाल नहीं करने की अपील की थी.

सीटी रवि ने बुधवार को यहां संवाददाताओं से कहा, “हलाल एक आर्थिक जिहाद है. इसका मतलब है कि मुसलमानों को अन्य धार्मिक समूहों के साथ व्यापार करना चाहिए इसलिए हलाल का इस्तेमाल आर्थिक जिहाद के रूप में किया जाता है.” उन्होंने कहा,“हलाल एक आर्थिक जिहाद है. इसका मतलब है कि इसका इस्तेमाल जिहाद की तरह किया जाता है ताकि मुसलमानों को अन्य के साथ व्यापार नहीं करना चाहिए. यह लागू किया गया है. जब वे सोचते हैं कि हलाल मांस का इस्तेमाल होना चाहिए तो इसमें यह कहने में क्या गलत है कि इसका इस्तेमाल नहीं होना चाहिए?”

इस बीच कर्नाटक हिंदू जनजागृति समिति के प्रवक्ता मोहन गौड़ा ने एक वीडियो जारी करते हुए कहा कि हलाल गैर-मुस्लिम समूहों को केवल मुसलमानों से उत्पाद खरीदने और भारी धन कमाने का एक व्यावसायिक योजना है. उन्होंने कहा कि धन का उपयोग जिहाद को अंजाम देने और राष्ट्र विरोधी साजिश रचने के लिए किया जाता है. उन्होंने ट्विटर हैंडल से जारी वीडियो में आग्रह किया, “हम सभी हिंदुओं से हलाल मांस, हलाल उत्पादों का बहिष्कार करने और झटका मांस का उपयोग करने का आग्रह करते हैं, जिसमें हिंदू वध का तरीका अपनाया जाता है. आइए हम इस तरह की राष्ट्र विरोधी गतिविधियों के आर्थिक बहिष्कार में साथ निभाएं.”

गौड़ा हिंदुओं से उगाडी से पहले हलाल मांस नहीं खरीदने की अपील करते हुए दिखाई दे रहे हैं क्योंकि इसे हिंदू देवताओं को नहीं चढ़ाया जा सकता क्योंकि यह पहले अल्लाह को चढ़ाया जाता है. समिति ने हलाल प्रमाणित मांस के बहिष्कार के लिए अभियान चलाया है. इससे पहले कई हिंदू कार्यकर्ताओं और संगठनों ने राजनीतिकरण तथा खाद्य उत्पादों पर हलाल प्रमाणीकरण की मजबूरी का विरोध किया था.

अक्टूबर 2021 में केरल में पहली बार गैर-हलाल रेस्तरां खोलने के लिए इस्लामी गुंडों ने तुषारा पर हमला किया गया और धमकी दी गई. इस बीच पूर्व मुख्यमंत्री और जनतादल (एस) के नेता एच डी कुमारस्वामी ने इस तरह के बहिष्कार की निंदा की और हिंदू युवाओं से राज्य में शांति भंग न करने की अपील की.

एचडी कुमारस्वामी ने इसके लिए कांग्रेस को बताया जिम्मेदार
पूर्व सीएम एचडी कुमारस्वामी ने कहा है कि मैं इस सरकार से पूछना चाहता हूं कि आप इस राज्य को कहां ले जाना चाहते हैं? उन्होंने इसके लिए कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराया है. कुमारस्वामी ने कहा कि कांग्रेस की वजह से ही ऐसी सरकार राज्य की सत्ता में आई है. कांग्रेस की वजह से ही कर्नाटक के लोगों को ऐसे दिन देखने पड़ रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.