हनुमान चालीसा पढ़िए…तो दादागिरी निकाल देंगे – उद्धव ठाकरे

हनुमान चालीसा विवाद पर चुप्पी तोड़ते हुए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने सोमवार को कहा कि उनके घर पर हनुमान चालीसा पढ़ने में कोई समस्या नहीं है लेकिन ‘दादागीरी’ बर्दाश्त नहीं की जाएगी. उद्धव ठाकरे ने बीजेपी का नाम लिए बगैर उस पर निशाना साधा और कहा की उन्हें हिंदुत्व सिखाने की ज़रूरत नहीं है.

सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा क‍ि घर आना है तो आओ, अगर आपके घर पर हनुमान चालीसा पढ़ने की आदत नहीं है और आप हमारे घर में पढ़ना चाहते हैं तो जरूर आइए लेकिन उसका भी एक तरीका होता है.

उन्होंने कहा कि दिवाली हो दशहरा हो या फिर कोई और त्यौहार घर पर साधु महात्मा अक्सर आते रहते हैं. बालासाहेब जिंदा थे मां साहेब जिंदा थीं तब भी आते थे और आज भी आते हैं. लेकिन वह आने के पहले बाकायदा बता कर आते थे कि मैं आपके घर आना चाहता हूं.

सीएम उद्धव ने अमरावती की सांसद का नाम ल‍िए बगैर कहा क‍ि हमारे यहां जरूर आइए आदर सत्कार करेंगे लेकिन दादागिरी करेंगे तो शिवसेना प्रमुख ने हिंदुत्व के पाठ में यह भी पढ़ाया है कि कैसे दादागिरी निकाली जाती है. इसलिए मुझे ज्यादा कुछ बोलना नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.